2019 सबसे महत्वपूर्ण सामान्य ज्ञान सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए

आसमान की आँख किसे कहा जाता है ? 

एयरबोर्न अरली वॉर्निग एन्ड कंट्रोल सिस्टम (अवाक्स ) को आसमान की आँख कहा जाता है। अवाक्स की विशेषता यह है की यह किसी भी आने वाली मिसाइल की पहचान कर सकता है। मूवमेंट की सटीक जानकारी दे सकता है, कम्यूनीकेशन सिस्टम को ब्लॉक कर सकता है। जमीन हो या समुद्र 250 किमी के दायरे की निगरानी कर सकता है।

एलबीएस एचई (लॉन्ग बॉक्स सर्विस हाई एक्सप्लोसिव ) क्या है ?

भारतीय वायुसेना ने आतंकवादी संगठन जैश -ए -मुहम्मद के ठीकानों पर जो 1000 पाउंड के एलबी एस एच ई (लॉन्ग बॉक्स सर्विस हाई एक्सप्लोसिव) एयर ड्राप बमों को गिराया था। इस बम की लम्बाई पांच फ़ीट और बजन लगभग 450 किलो होता है, इस बम का खोल ही 250 किलो का होता है। इतने भारी बमों को क्रेन से विमानों में लोड किया जाता है। विमान में यह बम लटका सा रहता है और पायलट द्वारा डेशबोर्ड पर लगा बटन दबा कर नीचे गिराया जाता है।

यह बम जमीन पर गिरते ही आग का गोला बनकर फटता है और इससे 200 से 300 मीटर के हिस्से में गहरा गढ्ढा हो जाता है,यह बम कई टुकड़ों में बिखरता है जिससे वहाँ मौजूद हर चीज को प्रभावित करता है।

बैटल क्राई किसे कहा जाता है ?

फाइटर प्लेन को शक्ति देने वाला बैटल क्राई (आईएल 78 विमान ) यह एक तेलवाहक विमान है, ये विमान जो फाइटर प्लेन को हवा से हवा में आसानी से ईंधन दे सकता है, इससे प्लेन लम्बे समय तक उडान भर सकता है।

मार्स क्या है ?

मिड एयर रिफ्यूलिंग स्क्वाड्रन (मार्स ) इसकी विशेषता यह है कि यह रात के समय भी विमानों को ईंधन दे सकता है।

मिराज 2000 की खूबियाँ क्या हैं ?

एकल इंजन होने के कारण अन्य जेट विमानों की तुलना में हल्का होता है, इसकी अधिकतम स्पीड 2,495 किमी प्रति घंटा है। ये विमान छोटे से छोटे रनवे पर उड़ान भर सकता है।

ये हवा में ठहरकर जमीन पर पर वार और हवा में ही एक साथ दुश्मन के दो विमानों से निपटने की क्षमता रखता है।

इसमें हथियारों को ले जाने के लिए नौ हार्डपॉइन्ट दिए गए हैं, इसमें पाँच प्लेन के नीचे और दो दोनों तरफ के पंखों पर होते हैं। मिराज 2000 ड्रॉप टैंक के साथ 1550 किमी की यात्रा कर सकता है, 17 किमी ऊंचाई तक जा सकता है।

इस विमान में एक फ्लाय-बाय वायर फ्लाइट कंट्रोल सिस्टम है जिसमें सेक्स्टेंट वीई -130 एचयूडी है जो उड़ान नियंत्रण, नेविगेशन, लक्ष्य की पहुँच और हथियार की पोजीशन फायरिंग से संबंधित डेटा प्रदर्शित करता है। कई लक्ष्यों पर एक साथ हमला करने के लिए रडार डॉप्लर मल्टी-टारगेट बोर्ड की सुविधा है।

800 किलो बजन की भगवद्गीता कहाँ स्थित है ?

26 फरवरी 2019 को दिल्ली के इस्कॉन मंदिर में आयोजित हुए आराधना महोत्सव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 800 किलो बजन और 670 पृष्ठों की विशाल भगवद्गीता का अनावरण किया।

2015,2016,2017,2018 के लिए गाँधी शांति पुरस्कार किसे प्रदान किये गए हैं ?

2015 का गाँधी शांति पुरस्कार – कन्याकुमारी स्थित विवेकानंद केंद्र को दिया गया है। ग्रामीण विकास, शिक्षा तथा प्राकृतिक संसाधनों के विकास में योगदान के लिए दिया गया है।

2016 का गाँधी शांति पुरस्कार – अक्षय पात्र फाउंडेशन और सुलभ इंटरनेशनल को संयुक्त रूप से दिया गया है।

अक्षय पात्र फाउंडेशन को देशभर के लाखों बच्चों को मिड डे मील उपलब्ध कराने और सुलभ इंटरनेशनल को स्वच्छता बढ़ाने और सिर पर मैला ढोने की  प्रथा को समाप्त करने की दिशा में उसके योगदान के लिए दिया गया है।

2017 का गाँधी शांति पुरस्कार -एकल अभियान ट्रस्ट को देश के दूरदराज के ग्रामीण एवं आदिवासी इलाकों में बच्चों की शिक्षा, ग्रामीण सशक्तिकरण तथा लैंगिक एवं सामाजिक समानता के लिए दिया गया है।

2018 का गाँधी शांति पुरस्कार-योही ससाकावा को दिया गया है, योही ससाकावा कुष्ठ उन्मूलन से संबंधित विश्व स्वास्थ्य संगठन के सदभावना दूत हैं। उन्हें यह पुरस्कार भारत सहित अन्य देशों में कुष्ठ उन्मूलन हेतु दिया गया है।

Spread the love

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *